Ramayan

Ramayan

रामकथा भारतीय संस्कृति का एक ऐसा अविच्छिन्न अंग रहा है जिसने भारतीय उपमहाद्वीप की भौगोलिक सीमाओं से परे जाकर भी अपना प्रभाव डाला है|रामकथा मानवीय मूल्यों को स्थापित करने वाली ऐसी रोचक गाथा है |माना जाता है कि वाल्मीकि की रामायण संस्कृत में लिखी गई पहली काव्य कृति है; इसलिए, इसे आदिकाव्य कहा जाता है। ऐसा कहा जाता है कि ब्रह्मा ने वाल्मीकि को आश्वासन दिया कि “जब तक पहाड़ खड़े हैं और नदियाँ बहती हैं, तब तक रामायण पुरुषों द्वारा पढ़ी जाएगी”|

Category:
Product ID: 5322

Description

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Ramayan”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Style switcher RESET
Body styles
Color settings
Link color
Menu color
User color
Background pattern
Background image